, , ,

अब बीकानेर से जल्द चलेगी इलेक्ट्रिक ट्रेन विद्युतीकरण के लिए मिले 524 करोड़ रुपय

February-06-2017

Expressbharat

अब बीकानेर वासी जल्द ही बीकानेर रेलवे स्टेशन से कोटगेट होते हुए लालगढ़ की ओर चलती इलेक्ट्रॉनिक्स ट्रेन देखने को मिलेगी। रेल बजट 2012-13 में लालगढ़ तक का विद्युतीकरण की घोषणा हो चुकी थी जिसका कार्य भी प्रगति पर है और अब बजट 2017 में लालगढ़ से बीकानेर तक भी विद्युतीकरण की घोषणा हो चुकी है। ऐसे में यह कार्य पूरा होने के बाद बीकानेर स्टेशन से कोटगेट होते हुए रेलवे स्टेशन की ओर इलेक्ट्रॉनिक्स ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा।

बजट 2017 में बीकानेर मंडल में विद्युतीकरण के लिए 524.73 करोड़ रुपए मिले है, जिसमें सादुलपुर-रतनगढ़-बीकानेर-लालगढ़-रतनगढ़-सरदारशहर तक कुल 286 किलोमीटर के लिए 236.35 करोड़ रुपए एवं रेवाड़ी-सादुलपुर-हनुमानगढ़ तक कुल 320 किलोमीटर के विद्युतीकरण के लिए 288.38 करोड़ रुपए की स्वीकृति मिली है। दोनों सेक्शनों का कार्य अलग-अलग होगा। इससे पूर्व रेल बजट 2012-13 में हिसार-भटिंडा-सूरतगढ़-लालगढ़-फलौदी जोधपुर-भीलड़ी (फलौदी-जैसलमेर एवं समदड़ी-मुनाबाव को शामिल करते हुए) सेक्शनों के विद्युतीकरण की घोषणा हो चुकी है, जिसका कार्य प्रगति पर है। इसके बाद बजट 2017 में इन दो नए सेक्शन की घोषणा भी हो चुकी है। ऐसे में इन सभी सेक्शनों का कार्य पूरा हा़े जाने के बाद लगभग पूरा बीकानेर मंडल विद्युतीकरण हो जाएगा।

यात्रियों का लाभ

विद्युतीकरणके बाद पूरे मंडल में यात्रियों को इलेक्ट्रॉनिक्स ट्रेनों का लाभ मिल सकेगा। इन सेक्शन पर ट्रेनों की स्पीड भी बढ़ेगी। ऐसे में यात्री अपने गंतव्य स्थान पर जल्द पहुंच सकेंगे। इन सेक्शनों में आने वाले स्टेशनों पर यात्री सुविधाएं भी बढ़ेगी।

रेलवेका लाभ

विद्युतीकरणके बाद रेलवे की आय में काफी बढ़ोतरी होगी, साथ ही डीजल की अपेक्षा इलेक्ट्रॉनिक्स ट्रेन में लागत भी कम रहेगी। हालांकि मंडल में डीजल एवं इलेक्ट्रॉनिक्स ट्रेनें दोनों का संचालन होगा।

विद्युतीकरण से यात्रियों रेलवे दोनों को मिलेगा लाभ

बीकानेर-सूरतगढ़-भटिंडा-हिसारसेक्शन के बाद सादुलपुर-रतनगढ़-बीकानेर-लालगढ़-रतनगढ़-सरदारशहर तथा रेवाड़ी-सादुलपुर-हनुमानगढ़ के विद्युतीकरण होने के बीकानेर लगभग पूरा बीकानेर मंडल में विद्युतीकरण से जुड़ जाएगा। ऐसे में यात्रियों के साथ रेलवे को भी लाभ होगा।

^इन दो सेक्शन में भी विद्युतीकरण की घोषणा होने के बाद लगभग पूरा बीकानेर मंडल में विद्युतीकरण हो जाएगा। लगभग पांच साल तक यह कार्य पूरा होने की संभावना है। इससे रेलवे एवं यात्रियों दोनों को लाभ मिलेगा। राजीवसक्सेना, डीआरएम बीकानेर

 

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

, ,
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: